गुणकारी अजवाइन के फायदे Benefits of Ajwain

 

अजवाईन से परिचय

अजवाइन के इस्तेमाल के बारे में तो आप जानते ही होंगे, क्योंकि अजवाइन का इस्तेमाल हर घर में रोज किया जाता है। आमतौर पर, अजवाइन का उपयोग केवल खाना पकाने के दौरान एक मसाले के रूप में किया जाता है, क्योंकि लोग नहीं जानते कि अजवाइन भी एक बहुत ही उपयोगी दवा है। कहने का मतलब यह है कि अजवाइन  खाने के फायदे बहुत सारे हैं।

 
 
अजवाइन के बारे में कहा जाता है की अजवाइन अकेले कई प्रकार के अनाजों को पचने में मदत करने में सक्छम है इसके साथ ही अजवाइन खाने के फायदों के बारे में यह  भी बताया जाता है की इससे कई  सारी बिमारियों को ठीक करने में सछम है ज्यादा तर लोगों को Ajwain  के बारे में नहीं पता होता है इसलिए घर में अजवाइन मौजूद होते हुए भी वो Ajwain  के लाभ नहीं ले पाते हैं। 
 
 
यह एक बीज है, जिसका उपयोग मसाले और औषधि के रूप में किया जाता है। अजवाइन कई बीमारियों (ajwain khane ke fayde) को ठीक करने में बहुत फायदेमंद है। हमारे देश में हजारों सालों से अजवाइन का उपयोग मसाले के साथ-साथ एक औषधि के रूप में किया जाता रहा है। मसाले, पाउडर, काढ़े और रस के रूप में अजवाइन खाने के लाभ भी उपलब्ध हैं।
 
 
 
चलिए जान लेते है की अजवाइन को कौन -कौन नमो से जानते हैं और अजवाइन कितने प्रकार की होती हैं।  
 

 

वजन घटने में अजवाइन के फायदे 

 

अजवाइन के प्रकार Types of Ajwain in Hindi 

  1. जंगली अजवाइन 
  2. खुरासानी अजवाइन 
  3. अजवाइन 
अजवाइन को देश के विभिन्न क्षेत्रों में अलग-अलग नामों से जाना जाता है, हिंदी में अजवाइन को जबयान या अनजान के रूप में जाना जाता है 
 

विभिन्न भाषाओँ में अजवाइन के नाम Ajvain ke name 

अंग्रेजी में Ajwain का नाम – Ajova के बीज या Ajowan या Carum या Carom Seeds या Omum
तमिल में अजवाइन का नाम- ओउम या ओमम
तेलुगु में अजवाईन का नाम- वामु या ओमरान
मलयालम में Ajwain का नाम- Ajwan (Ajwan)
मराठी में अजवाईन का नाम – अजमा (अजमा) या यवन
संस्कृत में अजवाईन का नाम – उग्रगंधा, ब्रह्मवर्धा, दीप्या, यवनिका, दीपिका, अजमोदिका, यवानी
उर्दू में अजवाईन का नाम- अजवाइन
कन्नड़ में अजवाइन का नाम- उल्टी या ओमू
अजवैन का नाम गुजराती में – अज़ामो (अज़ामो)
बंगाली-यमनी या जोवन में अजवाईन का नाम
नेपाली में अजवाइन का नाम- जावा (जावा)
अरबी में अजैन का नाम – कम्यून मुलुकी या अमुसा
फारसी में अजवाईन का नाम – नानखाह या जिनान
 
 

अजवाईन के फायदे और उपयोग  Benefits of Ajwain  in Hindi

अजवाइन एक आयुर्वेदिक औषधि के रूप में भी प्रयोग किया जाता ह।  इसकी मदत से कई रोगों को ठीक करने में मदत मिलती है इसलिए आपको अजवाइन का उपयोग और इसकी खुराक के बारे में पता होना चाहिए। चलिए जानते हैं अजवाइन किन-किन रोगों में फायदेमंद है। 
 
1 बहुत पुराने समय से , अजवाइन  का उपयोग हमारी दादी-नानी घरेलू उपचार में, एसिडिटी के लिए, पेट में जलन आदि के लिए करती थीं 
 
2 ज्यादा मसालेदार खाना खाने के बाद हार्टबर्न की समस्या होती है। इस मामले में, एक ग्राम अजवाइन और 1 गिरी बादाम को चबा या पीस लें। इससे लाभ होता है।
 
3 अगर कोई पेट से संबंधित बीमारियों से परेशान है, तो उसे 1 भाग अजवाइन, आधा भाग काली मिर्च और सेंधा नमक मिलाकर पीसना चाहिए। इसे 1-2 ग्राम गुनगुने पानी के साथ लेना है। सुबह-शाम पेट साफ करने से पेट के रोग ठीक हो जाते हैं।
 
4 यह दिल की बीमारियों से बचने की एक प्रभावी दवा है।
 
5 मुंह से जुड़ी बीमारियों में भी यह बहुत फायदेमंद है। 
अगर आप रोजाना सुबह पानी पीते हैं, तो दांतों के दर्द और मुंह की बदबू की समस्या दूर हो जाती है।
 
6 अजवाइन गठिया में भी राहत देती है। 
अजवाइन चूरन का एक पैकेट घुटनों पर बांधने से लाभ होता है। आधा कप अजवाइन का रस सूखी अदरक के साथ मिलाकर लेने से भी गठिया रोग ठीक हो सकता है।
 
7 रोजाना पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। इसे दिन में दो बार पीने से दस्त जैसे रोग ठीक हो जाते हैं।
 
 8 मसूड़े की सूजन को दूर करें
यदि मसूड़ों में सूजन है, तो गुनगुना पानी और अजवाइन के तेल की कुछ बूंदों को बाईं ओर जोड़ने से मदद मिलेगी। इसके अलावा अजवाइन को भूनकर उसका पाउडर बना लें। इसे ब्रश करने से मसूड़ों के दर्द और सूजन से राहत मिलती है। 
 
9 अगर आप सर्दी और खांसी से परेशान हैं, तो अजवाइन के पानी में एक चुटकी काला नमक मिलाकर पीने से खांसी ठीक हो जाएगी, और इसे पीने से अस्थमा का खतरा भी कम होता है।
 
10 अजवाइन का पानी प्रसव के बादप्रसव के बाद महिलाओं को अजवाइन का पानी पीने की सलाह दी जाती है। यह पेट साफ करता है और शरीर को गर्माहट प्रदान करता है। हालाँकि, अजवाइन का पानी पीने से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
 
11 सिरदर्द एक आम समस्या है, लेकिन अगर आपको हमेशा दो से चार होते हैं, तो एक कप अजवाइन का पानी पीने से सिरदर्द में राहत मिलती है।
 
12 पीरियड के दर्द से राहत
कई महिलाओं को पीरियड्स के दौरान कमर और पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द होता है। ऐसे में अजवाइन को गुनगुने पानी के साथ लेने से दर्द से राहत मिलती है। हां, इस बात का ध्यान रखें कि यदि रक्त प्रवाह अधिक हो तो अजवाइन का तापमान गर्म होना चाहिए और इसका उपयोग नहीं करना चाहिए।
 
12 मुँहासे छुट्टी
अब आप जानते हैं कि अजवाइन पाचन को ठीक करती है। जाहिर है, अगर पेट साफ होगा तो पिंपल्स नहीं आएंगे। अगर आपके चेहरे पर मुंहासे हैं, तो थोड़ी सी अजवाइन को दही के साथ पीस लें और इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। जब लेप सूख जाए तो इसे गर्म पानी से साफ कर लें। कुछ ही दिनों में मुहांसे गायब हो जाएंगे।
 
 
13 अजवाइन का पानी प्रसव के बादप्रसव के बाद महिलाओं को अजवाइन का पानी पीने की सलाह दी जाती है। यह पेट साफ करता है और शरीर को गर्माहट प्रदान करता है। हालाँकि, अजवाइन का पानी पीने से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
 
14 यह पेट के रोगों को ठीक करता है और कब्ज से भी छुटकारा दिलाता है। यह भोजन जल्दी पचने में मदद करता है।Ajwain Digestive System को बेहतर बनाता है
 
 
15 यदि कोई पाचन शक्ति में सुधार करना चाहता है, तो अजवाइन (ajwain ke fayde) के औषधीय गुणों से लाभ उठाने की आवश्यकता है।
 
16 यदि किसी व्यक्ति का पाचन तंत्र ठीक नहीं है, तो उसे 80 ग्राम अजवाइन, 40 ग्राम सेंधा नमक, 40 ग्राम काली मिर्च, 40 ग्राम काला नमक, 500 मिलीग्राम अर्क लेना चाहिए। इन्हें 10 मिली कच्चे पपीते के दूध (पपैन) में बारीक पीस लें। इसे एक कांच के बर्तन में भरें, और इसमें 1 नींबू का रस मिलाएं और इसे धूप में रखें। इसे कभी-कभी हिलाते रहें। 1 महीने के बाद, जब यह पूरी तरह से सूख जाता है, तो पानी के साथ 2 से 4 ग्राम सूखे पाउडर लें। यह पाचन शक्ति को स्वस्थ बनाता है, और अपच, गैस्ट्रिक रोगों, और लगातार दस्त के रोग में लाभ (ajwain लाभ) है।
 
17 अजवाइन के गुण न केवल पाचन में बल्कि अन्य बीमारियों में भी फायदेमंद होते हैं।1 ग्राम अजवाइन को कोलोसिन्थ के फलों में भरें और सूखने पर इसे बारीक पीस लें। इसमें अपनी इच्छानुसार काला नमक मिलाएं और इसे रखें। इसे गर्म पानी के साथ पिएं। इसके उपयोग से पेट से संबंधित सभी विकारों से राहत मिलती है।
 
 
18 आग पर 1.5 लीटर पानी रखें। जब पानी पूरी तरह से 1.25 लीटर तक उबल जाए, तो इसे नीचे उतार लें। आधा किलो पिसी हुई अजवाइन डालें और ढक्कन बंद कर दें। जब यह ठंडा हो जाए तो इसे छानकर बोतल में भर लें। इसे दिन में 3 बार 50-50 मिलीलीटर पिएं। इसके प्रयोग से पेट का पाचन तंत्र विकार ठीक हो जाता है।
 
19 1 किलो अजवाइन में, 1 लीटर नींबू का रस और 50-50 ग्राम सभी पांच लवण लें। इसे कांच के बर्तन में रखें। इसे दिन में धूप में रखें। जब रस पूरी तरह से सूख जाता है, तो दिन में दो बार 1-4 ग्राम लें। इससे पेट के रोग ठीक होते हैं।
 
 

वजन घटाने में अजवाइन के फायदे Ajwain for Weight loss

अजवाइन पानी  बनाने की विधि Ajwain ke fayde weight loss for hindi 

सबसे पहले  एक  से दो चम्मच अजवाइन रोस्ट कर लें, उसके बाद एक से डेढ़ गिलास पानी में रोस्ट की हुई अजवाइन को डालकर कर बॉईल करें उस पानी को तबतक बॉईल करें जबतक  पानी  ब्राउन रंग का न हो जाये फिर उसे छानकर पि लें।

जीरा और अजवाइन के फायदे Benefits of jira and ajwain  in hindi 

 अजवाइन और जीरा  का मिक्सचर बनाकर वजन को कम किया जा सकता है जीरा अजवाइन की weight loss प्रॉपर्टी को बढ़ा देता है। 

इसके लिए जीरा और अजवाइन को अलग-अलग करके पीसकर पॉवडर बना लें और रोज सुबह गुनगुने पानी में मिलाकर  पि लें। इससे आपका स्वस्थ भी अच्छा रहेगा। 

लेकिन ध्यान रहे वजन कम करने के लिए आपकी  अच्छी डाइट और एक्सरसाइज महत्वपूर्ण है 

 

वजन कम करने के लिए टिप्स यहाँ पर पढ़े

वजन कम करने के योगासन यहाँ पर पढ़ें

 

अजवाइन के नुकसान  Ajwain Side Effect in Hindi 

अजवाइन के इतने सरे लाभ है तो जाहिर है इसके कुछ नुकसान भी होंगे, अजवाइन का अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने से मुँह में छाले पड़ना, अजवाइन अधिक खाने से शरीर में गर्मी पैदा होती है जिससे अल्सर जैसी समस्या हो सकती है, एसिडिटी बढ़ जाती है, अजवाइन का अधिक सेवन करने से हार्ट रेट पर असर पड़ता है, हमेशा ताजी  अजवाइन का इस्तेमाल करना चाहिए, अधिक अजवाइन का सेवन करने से सर दर्द जैसी समस्या हो सकती है इसलिए अजवाइन लेने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। 

 

 

1 thought on “गुणकारी अजवाइन के फायदे Benefits of Ajwain”

Leave a Comment

Live Updates COVID-19 CASES