मेथी के फायदे और नुकसान

मेथी एक वनस्पति है मेथी का पौधा करीब एक फुट से भी छोटा होता है यदि बात करें इसके उपयोग की तो इसकी पत्तियों का उपयोग साग या सब्जी बनाने में प्रयोग  किया जाता है । इसके दानों का प्रयोग मशालों के रूप किया जाता है स्वस्थ की दृष्टि से मेथी बहुत लाभ दायक है।

मेंथी में पाये जाने वाले पोषक तत्व

मेंथी एक उच्च कोटि का आहार है इस पौधे का ऊपर पत्ती वाला भाग सब्जी के रूप में प्रयोग में लाते हैं तथा इसके दानो को हम औषधि के रूप में प्रयोग करते हैं । मेंथी में फाइबर की मात्रा औसतन पायी जाती है।

मेंथी की तासीर

मेंथी की तासीर गर्म होती है इसी लिए इसका ज्यादा मात्रा में उपयोग नहीं करना चाहिए । इसका अधिक इस्तेमाल करने से सीधा हमारे पाचन तंत्र पर असर पड़ सकता है ।

 

मेंथी के फायदे

मेंथी एक ऐसा पौधा है जो आप पत्ती व दानों को दोनों तरीके से उपयोग में ला सकते हैं । मेंथी का प्रयोग हम सब्जी व दानो के रुप में जय्दा करते हैं । तो आइए आज हम मेंथी के बारे में विस्तार से जानेंगे कि आखिर हम मेंथी का इस्तेमाल कर्के किन किन बीमारियो से  छुटकारा पाया जा सकता है ।

मेंथी बालों के लिए फायदेमंद

मेंथी हमारे बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है । बालों से जुड़ी अनेक समस्याओं से  जैसे  कि बालों का सूखापन , बालों में खुजली , बालों का झड़ना तथा बालों में दाद खाज , खुजली  जैसी समस्या में लाभकारी साबित हो सकती है । तो आप लोग सोच रहे हैं कि मेंथी का उपयोग बालों में कैसे करना ? सबसे पहले आप मेंथी को एक बड़ा चम्मच रात में भिगो दें फिर उसको सुबह किसी छन्नी या कपडे से छान लें इसके बाद में मेंथी के दानों को अच्छे से पीस लें । इसके बाद में 15 से 20 करी की पत्तियों  की आवस्यकता होगी । पीसी हुई मेंथी में उन पत्तियों को किसी मिक्सर में पीस लें इसके बाद में इसका लेप बनकर तैयार हो जायेगा तथा इस लेप को आप बालों के जड़ों में अच्छे से लगाएं 30 से 45 मिनट तक इस लेप को लगा रहने दें । 30 से 45 मिनट बाद आप अपने बालों को अच्छी तरह से धोलें । इस लेप को हप्ते में दो बार लगाना है ।

मेंथी त्वचा के लिए फायदेमंद

मेंथी त्वचा के दानों का उपयोग हम चहरे से जुड़ी कई समस्याओं से बचाव के लिए अलग – अलग  रूप में इस्तेमाल करते हैं । यदि आप मुहासों से परेशान हैं तो आप बड़ा चम्मच मेंथी के दानों को अच्छे से पीस लें और फिर मेंथी के पिसे पाउडर को पानी में अच्छे मिलाकर  लेप बना लें इस लेप को आप हप्ते में तीन बार 10 से 15 मिनट तक लगाए रखना है कुछ दिनों बाद आप के चेहरे के मुहासे गायब होते नजर आएंगे । मेंथी के दाने एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं ।

मेंथी कोलेस्ट्रॉल कम करने में फायदेमंद

एक शोध के दौरान यह पाया गया है कि मेंथी में ऐसे गुण मौजूद होते हैं जो ख़राब कोलेस्रॉल को कम करने में सहायक है ।naarigainin नामक का एक प्लवोचायड मौजूद होता है जो ज्यादा कोलेस्ट्रॉल वाले लोगों में लिपिड लेवल को कम करता है । ख़राब कोलेस्रॉल खून कि धमनियों में रुकावट उत्पन्न करता है तथा इससे प्रभावित लोगों को दिल का दौरा जैसी समस्या हो सकती है

मेंथी में घुलन शील फाइबर जो पचे हुए खाने में चिपचिपे पन को बढ़ा देता है । जिससे कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में सहायता मिलती है  इसके सेवन करने के दो तरीकें हैं  । इसके सेवन करने के दो तरीके हैं पहला मेंथी को पीस लें आप इसको पानी या खाने के ऊपर छिड़काव करके इस्तेमाल में ला सकते हैं । इसकी मात्रा 50 ग्राम तक इस्तेमाल में लाई जा सकती है ।

मेंथी के दाने सर्दी में फायदेमंद

मैंने आपको पहले ही बता दिया है कि मेंथी के दानों में एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं इसी लिए यह शरीर को होने वाले फ्लू से लड़ने में सहायता प्रदान करता है । मेंथी में औषधि गुण मौजूद होते हैं जैसे कि जीवाणु रोधी व एंटीवाइरल , एंटीफंगल आदि गुण मौजूद होते हैं । यह बुखार रोधी भी है तथा सर्दी में भी फायदे मंद है सर्दी में एक चम्मच मेंथी पीसी हुई तथा इसमें निम्बू का रस व इसमें सहद को मिलाकर लें । इस मिश्रण को आप दिन में कम से कम दिन में दो से तीन बार लेने से सर्दी जुखाम जैसी समस्या से समस्या में काफी मदद गार साबित हो सकता है 

मेंथी के दानों से जोड़ों के दर्द कम करने में सहायक

मेंथी अक्सर जोड़ो के दर्द में काफी कारगर साबित होता है । इसमें मुख्य रूप से dioesjinin नाम का पदार्थ पाया जाता है जो जोड़ों के दर्द को कम करता है तथा इसके अतिरिक्त इसमें आयरन , फॉस्फोरस  तथा कैल्सियम जैसे पोषक तत्त्व मौजूद होते हैं जो हमारी हड्डियों को स्वस्थ व मजबूत करने में सहायक हैं ।

जोड़ों के दर्द में से राहत पाने के लिए रात में  एक चम्मच मेंथी के दानों को रात में भिगो दें तथा सुबह इन दानों को चबाचबाकर  खाएं इसके आलावा मेंथी के पावडर के साथ गर्म पानी से पेस्ट बना लें इसके बाद जिन जोड़ो में दर्द है उनमे इस पेस्ट को लगाए यह जब आपके जोड़ों में लगा पेस्ट सुख जाने के बाद अच्छे से धोलें । यह प्रक्रिया दिन में दो बार दोहराएं जल्द ही आराम मिलेगा ।

मेंथी कब्ज में फायदेमंद

अनियमित खानपान से तथा असंतुलित भोजन करने से कब्ज की समस्या हो गई है तो इससे निजात पाने के लिए मेंथी को उपयोग में ला सकते हैं क्योंकि इसमें फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो की कब्ज से छुटकारा दिलाने में मदद गार साबित हो सकता है । यह अपच से होने वाले पेट में दर्द में आराम दिलाता है तथा इसके अतिरिक्त आंतों में जलन व सूजन जैसी समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद गार साबित हो सकता है।

एक शोध के दौरान यह बताया गया कि फाइबर वाले उत्पाद को  2 हप्ते तक दिन में दो बार भोजन से 30 मिनट पहले सेवन करने से सीने कि जलन में कमी आई है ।

कब्ज से राहत पाने के लिए आधा चम्मच मेंथी का पाउडर व गर्म पानी के साथ सेवन करने से काफी हद तक निजात आप सकते हैं ।

मेंथी का सेवन कैसे करें

मेंथी का उपयोग सब्जी व औषधि के रूप में किया जाता है तथा इसके आलावा इसका उपयोग मशालों के रूप में किया जाता है ।

1. मेंथी के दानों को पानी में भिगोकर सीधे तौर पर भी खाया जा सकता है ।

2. इसका उपयोग मशालों के रूप में किया जाता है तथा इसके दानों का प्रयोग व्यंजनों के स्वाद बढ़ाने में किया जाता है ।

3 मेंथी के पौधे का उपयोग सब्जी बनाने के लिए किया जाता है ।

4 . मेंथी का उपयोग चाय बनाने में किया जाता है ।

5 . मेंथी की पत्तियों को सुखाकर जड़ी – बूटी के रूप किया जा सकता है ।

6 . मेंथी के दानों से तेल निकालकर औषधि के रूप में प्रयोग में लाया जा सकता है ।

मेंथी के सेवन से होने वाले नुकसान

1 . मेंथी का अधिक मात्रा में सेवन करने से दस्त जैसी समस्या से सामना करना पड़ सकता है ।

2 . इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह से सेवन करना चाहिए क्योंकि आपकी त्वचा में एलर्जी या चकत्ते की समस्या हो सकती है ।

3 . इसका उपयोग गर्भा अवस्था के दौरान न करें क्योंकि इसकी तासीर गर्म होने के कारण आपके लिए नुकसान देह भी हो सकती है ।

4 . मेंथी का सेवन करने से पेट में जलन , सीने में जलन , अपचन जैसी समस्या हो सकती है ।

5 . यदि आप किसी दवाई का इस्तेमाल पहले से कर रहें हैं तो आप इसका इस्तेमाल न करें नहीं तो इसका असर नकारात्मक असर देख सकते हैं।

Leave a Comment