प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने वाले आहार

इम्यून सिस्टम बूस्टर

अपने शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए हमें जरुरत होती विटामिन्स व मिनिरल्स जो हम कुछ खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करके प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाया जा सकता है।

अगर आप जल्दी जल्दी सर्दी, फ्लू व अन्य संक्रमणों से ग्रसित हो जाते हैं, इसका मतलब आपकी रोगप्रतिरोधक छमता काफी कजोर हो चुकी है, आप अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए इन 12 शक्तिशाली खाद्य पदार्थों का अपने आहार में शामिल करके अपनी प्रतिरक्षा को ठीक कर सकते हैं

 

महत्वपूर्ण निर्देश

Covid-19 के चलते यह बताना आवश्यक है की अपने आहार में पोषक तत्वों के सन्तुलि आहार लेना आवश्यक है  इसके साथ सामाजिक दूरी बनाये रखना प्रत्येक व्यक्ति का दायित्व  है साथ उचित स्वछता आपको बनाकर रखनी  होगी तभी covid-19 जैसी बीमारी को मात दिया जा सकता है, क्योंकि इसके अलावा अभी covid-19 को रोकने के लिए और कोई चारा नहीं हैं।

 

1. खट्टे फल

यह खट्टे फल कुछ लोगों को बहुत पसंद आते है तो कुछ लोगों को कम पसंद आते हैं, लेकिन आपको पता होना चाहिए की यह पौष्टिक खाद्य पदार्थ हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

लगभग सभी खट्टे फलों में विटामिन स प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, और इनमे से कुछ ऐसे फल है जिनको हम निचोड़ कर अपने खाने के साथ आसानी से खा सकते हैं, यह खट्टे फल आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को काफी मजबूत बनाने में मदत करते हैं।

माना जाता है की विटामिन C  सफ़ेद रक्त कड़िकाओं के उत्पादन को बढ़ता है, जो संक्रमण से लड़ने में मदत करते हैं।

अधिक मात्रा में विटामिन C पाए जाने वाले फल

  • Grapefruit
  • Oranges
  • Clementine
  • Orange
  • Lemon

आपको वर्ष के 365 दिन स्वस्थ रहने के लिए विटामिन C  की आवश्यकता पड़ती है, विटामिन C  का उत्पादन हमारा शरीर स्वं नहीं करता है इसीलिए हमें विटामिन C  की डोज को पूरा करने के लिए ऐसे फलों की आवश्यकता होती है जिनका सेवन करने से हम अपनी विटामिन C की दैनिक खुराक को पूरा कर पाते हैं।

एक दिन में विटामिन C  कितना लेना चाहिए?

महिलाओं के लिए 75 मिलीग्राम
पुरुषों के लिए 90 मि.ग्रा

आपको यह ध्यान देना होगा की अधिक मात्रा में विटामिन C  लेने से कई बार सर्दी जुखाम जैसी समस्या हो सकती है, इसके कोई ठोस सबूत नहीं हैं लेकिन यह covid-19 के दौरान काफी मदत कर रहा है।

2. लाल शिमला मिर्च 

खट्टे फलों में C  होता है यह तो लगभग सबको जानकारी होगी लेकिन क्या आपको यह पता है की लाल शिमला मिर्च में आहूत ही अच्छी मात्रा में विटामिन C  पाया जाता है बताया गया है की फ्लोरिडा ऑरेंज के मुकाबले लाल शिमला मिर्च में लगभग तीन गुना पाया जाता है।

लाल  शिमला मिर्च आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के अलावा, विटामिन सी स्वस्थ त्वचा को बनाए रखने में आपकी मदद कर सकता है। बीटा कैरोटीन, जिसे आपका शरीर विटामिन ए में परिवर्तित करता है, यह आपकी आंखों और त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

3. ब्रोकली 

ब्रोकली को कुछ लोग सब्जियों में सबसे स्वस्थ सब्जी मानते है क्योंकि यह पोषक तत्वों से भरी हुई, इसमें Vitamin  A , C , E  के साथ Fiber  भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इसके साथ – साथ इसमें एंटीऑक्सीडेंट तत्व भी पाए जाते हैं।

ब्रोकली में मौजूद पोषक तत्वों का फायदा उठाने के लिए इसको कम से कम पकाने की कोसिस करें, क्योंकि अधिक पकाने से इसमें मौजूद पोषक तत्वों नष्ट हो जाते हैं।

4. लहसुन

लहसुन को मशाले व सब्जी दोनों रूपों में प्रयोग किया जाता है, यह दुनियां की हर सब्जी में लगभग प्रयोग किया जाता है, इसमें मौजूद जिंक जो शरीर को जरुरत होती है इसके साथ इसमें और पोषक तत्व होते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए उपयोगी हैं।

पुराने समय में बिमारियों  से बचने के लिए लहसुन का प्रयोग किया जाता था, इसका सेवन कई बिमारियों में मूल उपचार के रूप में किया जाता था।

लहसुन ह्रदय रोग, हाई कोलेस्ट्रॉल, सर्दी जुखाम व वाइरल फ्लू आदि संक्रमणों से बचने में मदत करता है, इसमें vitamin C के साथ- साथ सेलेनियम व मैगनीज जैसे खनिज पाए जाते हैं, इसके अलावा इसमें एंटीऑक्सीडेंट व एंटीबॉयटिक गुण होते हैं जो  बिमारियों से बचाकर रोगप्रारतिरोधक छमता को बढ़ने में मदत करते हैं।

 

5.  अदरख 

बीमारी में अदरक जड़ीबूटी की तरह काम करती है। अदरख सूजन को कम करने में मदत करती हैं, जो गले में खराश और सूजन सम्बन्धी बिमारियों को कम करने में मदत कर सकता है इसके साथ अदरख मतली में भी मदत करता है।

अदरख प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देकर फ्लू , सर्दी जुखाम बुखार आदि वाइरल समस्याओं  से बचाता है। अदरख में एंटी टोक्सिन, एंटीवाइरल, एंटीफंगल गुण होते हैं । अदरक पुराने दर्द को भी कम कर सकता है और इसमें कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले गुण भी हो सकते हैं।

6. पालक
पालक ने हमारी सूची न केवल इसलिए बनाई क्योंकि यह विटामिन सी में समृद्ध है – यह कई एंटीऑक्सिडेंट और बीटा कैरोटीन के साथ भी पैक किया जाता है, जो दोनों संक्रमण से लड़ने की हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली की क्षमता को बढ़ा सकते हैं।

पालक को ब्रोकली की  श्रेणी में रखा जा सकता है पालक के पोषक तत्वों के फायदे लेने के लिए इसको कम से कम पकाएं, क्योंकि हल्का पकाने से विटामिन्स को आसानी के साथ अवशोषित किया जा सकता है।

पालक में विटामिन C  के साथ – साथ इसमें कई एंटीऑक्सीडेंट और बीटा कैरोटीन पाया जाता है जो संक्रमण से लड़ने में मदत करता है और और हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है।

7. दही

दही में विटामिन D  प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, इसलिए आप दही का इस्तेमाल अपनी डाइट में आसानी के साथ कर सकते है अगर आप वतमिन D  की कोई सप्लीमेंट ले रहे हैं तो आपको दही से विटामिन डी आसानी से प्राप्त हो सकता है आपको विटामिन डी की कोई भी दवा लेने की जरुरत नहीं हैं।

दही आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करके आपको वाइरल बिमारियों से बचने में सक्षम है, कोशिस करें की आप दही को बिना स्वाद के खाएं दही में चीनी न मिलाएं उसको सदा ही खाएं, अगर आपको सादा दही पसंद नहीं आता तो आपको चीनी की जगह थोड़े से शहद का इस्तेमाल कर लेना चाहिए।

दही भी विटामिन डी का एक बड़ा स्रोत हो सकता है, इसलिए इस विटामिन के साथ गढ़वाले ब्रांडों को चुनने का प्रयास करें। विटामिन डी प्रतिरक्षा प्रणाली को विनियमित करने में मदद करता है और माना जाता है कि यह हमारे शरीर को बीमारियों से बचाता है।

 

8. बादाम

सर्दी व जुखाम वाइरल जैसी  बिमारियों में vitamin-C व vitamin-E एक महत्व पूर्ण कार्य करती हैं इसमें शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती देते हैं।बादाम विटामिन्स से भरे होते हैं, इसके साथ इसमें स्वस्थ वषा पायी जाती है 

वयस्कों को प्रत्येक दिन केवल 15 मिलीग्राम विटामिन ई के स्रोत की आवश्यकता होती है। आधा कप बादाम, जो लगभग 46 साबुत, छिलके वाले बादाम होते हैं, अनुशंसित दैनिक मात्रा का लगभग 100 प्रतिशत स्रोत प्रदान करते हैं।

एक आम व्यक्ति को प्रतिदिन 15-16 मिलीग्राम vitamin-E की आवश्यकता होती है। यदि आधा कप बादाम 30-35 गिरियां प्रतिदिन ली जाये तो आपकी दैनिक विटामिन की पूर्ति 100 प्रतिशत मिल जाती है।

9. सूरजमुखी के बीज
सूरजमुखी के बीज फास्फोरस, मैग्नीशियम और विटामिन बी 6 और ई सहित पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं।

विटामिन ई प्रतिरक्षा प्रणाली समारोह को विनियमित करने और बनाए रखने में महत्वपूर्ण है। विटामिन ई की उच्च मात्रा वाले अन्य खाद्य पदार्थों में एवोकाडोस और अंधेरे पत्तेदार साग शामिल हैं।

Vitamin-E हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर बनाये रखने में महत्व पूर्ण रोल अदा करती है 

सूरजमुखी के बीज भी सेलेनियम में अविश्वसनीय रूप से उच्च हैं। सिर्फ 1 औंस में लगभग आधा सेलेनियम होता है जिसकी औसत वयस्क को रोजाना जरूरत होती है। अधिकांश जानवरों पर किए गए कई अध्ययनों में वायरल संक्रमणों जैसे कि स्वाइन फ्लू (एच 1 एन 1) से निपटने की उनकी क्षमता का उल्लेख किया गया है।

10. हल्दी

हल्दी एक ऐसा घटक है जिसको कई प्रकार से प्रयोग में लाया जाता है, हल्दी को खाने में तो प्रयोग में लाया ही जाता है उसके साथ इसको कई बिमारियों में भी उपयोग किया जाता है।

हल्दी को पुराने समय से ही स्टियोआर्थराइटिस गठिया जैसी बीमारी के लिए प्रयोग किया जाता है 

कई शोध के दौरान यह पता लगाया गया है की करक्यूमिन की वजह से जो हल्दी को अपना स्वादिष्ट रंग देती है, यह व्यायाम के समय चोटिल व अकड़ी माशपेशियों को थिक करने में मदत करता है, इसके साथ – साथ यह रोगप्रतिरोधक छमता को भी बढ़ाने में मदत करता है।

 

11. पपीता

पपीते में vitamin-C प्रचुर मात्रा में पाया जाता है अगर आप पपीते का सेवन करते हैं तो आपकी प्रतिदिन vitamin-C की जरुरत को पुअर कर सकते हैं, इसके साथ इसमें पपैन नामक एक एंजाइम पाया जाता है जो आपके पाचन के लिए भी लाभदायक होता है और यह सूजन को भी कम करता है।

पपीते में पोटेशियम, मैग्नीशियम और फोलेट की अच्छी मात्रा होती है, जो आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं।

12. कीवी
कीवी में भी पपीते की तरह प्राकृतिक रूप से फोलेट, पोटेशियम, विटामिन के और विटामिन सी सहित आवश्यक पोषक तत्वों पाए जाते हाँ।

विटामिन सी संक्रमण से लड़ने के लिए सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है, जबकि कीवी में अन्य पोषक तत्व आपके शरीर के बाकी हिस्सों को ठीक से काम करते रहते हैं।

 

ध्यान  देने योग्य बात यह है की अगर आप सोच रहे हो की इन खाद्य पदार्थ आपको बिमारियों से बचा लेंगे तो यह आप गलत सोच सकते हो यह आपकी प्रतिष्ठा प्रणाली को बजबूत बनाने का कार्य करते हैं। आपको अपनी दैनिक क्रिया कलाप के आधार पर अपना संतुलित भोजन करें जिसमें सभी प्रकार के जरुरी पोषक तत्व शामिल हों   अगर आप संक्रमण व बिमारियों से बचना चाहते है तो उसका एक की ही उपाय है, सही भोजन करना एक अच्छी शुरुआत है, समय पर व्यायाम व अच्छी नींद लेना जरुरी है।

 

Leave a Comment

Live Updates COVID-19 CASES