Panic Attack Causes and Symptoms: क्या आपको भी है सीने में दर्द तो सावधान हो जायें कहीं ये पैनिक अटैक तो नहीं

दोस्तों आज की भाग दौड़ भरी जिंदगी ने तनाव के स्तर को बढ़ा दिया है इंसान अपनी जरूरतों को पूरा करने व परिवार की जिम्मेदारियों  के चलते ना ठीक से खाते हैं न पीते जिसका शारीरिक और मानसिक रूप पर से  बड़ा प्रभाव पड़ता है लम्बे समय से चल रहे किसी तनाव व चिंता के कारण लोगों में अचनाक इसके लक्षण दिखने लगते हैं|

 

पैनिक अटैक कैसे होता है 

 
पैनिक अटैक एक मन का रोग माना जाता है कई बार हमारे जीवन में कुछ ऐसी परिस्थितियां आ जाती हैं जैसे लगातार मेहनत करने के बावजूद सफलता न मिलना, कोई ऐसे व्यक्ति की मुर्त्यू हो जाना जिससे आपका बहुत अधिक लगाओ हो,या आपको कोई गंभीर बीमारी हो जिससे आप हमेश चिंतित रहतें हों या कोई पारिवारिक समस्या जिसको लेकर आप परेशान रहते हैं।
कई बार आप अपने जीवन से बहुत सारी अपेछायें रखते हैं लेकिन आप उनको पूरा नहीं कर पाते जिसके कारण आप मन से गिरने लगते हैं यही वजह होती है जब व्यक्ति मन से गिरने लगता है और उसके दिमाक  में कई प्रकार के नकारात्मक विचार आने लगते हैं जिससे  वह पैनिक अटैक जैसी बीमारी का सीकर हो जाता है 
 

पैनिक अटैक के लक्षण ( Symptoms of panic attack)

 

कभी-कभी इतनी जल्दी सब कुछ होता है की आपको पता ही नहीं चलता की आपके साथ हुआ क्या है तो इसके लक्षण जानना जरुरी हो जाता है।

 

  1. अधिक पसीना आना 
  2. साँस जल्दी जल्दी आना 
  3. बेचैनी और खुद पर नियंत्रण  न होना 
  4. उल्टी व पेट ख़राब होना 
  5. कमजोरी महशुस होना हाथ पैरों में ऐठन 
  6. घबराहट महशुस होना 

पैनिक और हार्ट अटैक में अंतर (Difference between panic and heart attack)

 
कई बार पैनिक अटक और हार्ट अटैक के एक सामान लक्षण  होते है लोग पैनिक अटैक को हार्ट अटैक समझ लेते हैं क्योकि दर्द दोनों में एक समान होता है लेकिन हार्ट अटैक का दर्द तेजी से होता है और वह दर्द काफी देर तक बना रहता है वहीँ पैनिक अटैक का दर्द भी बहुत तेजी से होता है लेकिन वह मुश्किल से 7-10 सेकंड के  लिए होता है।

 

ज्यादातर पैनिक अटैक युवाओं  में  देखने को मिलता है क्योंकि  आज के युवा जल्दी अपनी लाइफ को सेटल करने के चक्कर में नौकरी , ऑफिस के काम का प्रेसर , आर्थिक समस्या , पारिवारिक  जिम्मेदारियां होती है।
 
 

 

पैनिक अटैक से बचने के उपाय 

अगर आपको पैनिक अटैक होता है तो आपको सबसे पहले धीरे धीरे  लम्बी  गहरी साँस लीजिये पानी पीजिये आपको उस समय सकारात्मक सोचना है की अब मै ठीक हूँ मुझे कोई दिक्कत नहीं है जिससे आप पैनिक अटैक को कंट्रोल कर पाएंगे।

 

 

 

 

अपनी दिनचर्या को बदलें खाने में स्वस्थ आहार लेंच्छे और नेक (Positive thinking ) विचारों वाले लोगों से मिलें उनसे बातें करें उनसे अपनी समस्यायों के बारे में बताएं  नकारात्मक सोच (Negative ) लोगों से दूर रहें ऐसे लोगों से मिलें जिनसे आपको खुसी मिलती हो , योग करें,ध्यान (meditation) करें, व्यायाम या कोई खेल एक अच्छा तरीका हो सकता है  अच्छे गाने (music) सुने|  लेकिन अगर आपको बहुत जल्दी -जल्दी  पैनिक अटैक हो रहा तो आप एक बार डॉक्टर को जरूर देखायें  क्योंकि अत्यधिक पैनिक अटैक हार्ट अटैक का रूप ले  सकता है।

 

 

Leave a Comment

Live Updates COVID-19 CASES